Madhya Pradesh SC ST Officers and Employees Association (AJJAKS), Indore Branch
संस्था का संबिधान कार्य कारिणी इतिहास फोटो गैलरी ज्ञापन/परिपत्र विचार समाचार-प्रकाशन सदस्यता सुझाव/शिकायत संपर्क
Welcome to AJJAKS Indore


मध्यप्रदेश में आरक्षण का पालन सुनिश्चित कराने हेतु अज्जाक्स संगठन की प्रदेश स्तर पर विस्तृत कार्यक्रम/रुपरेखा

Date : 1 July 2012
Venue : Indore

जिला मुख्यालय पर समस्त सामाजिक संगठन, छात्र संगठनो की बैठक|

Date : 8 July 2012
Venue : Indore

ब्लाक स्तर पर समस्त सामाजिक संगठन, छात्र संगठनो की बैठक|

Date : 10 July 2012
Venue : Indore

कलेक्टर को ज्ञापन सोंपा जाये एवं राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, राज्यपाल, मुख्यमंत्री एवं मुख्या सचिव महोदय को २०० - २०० पोस्टकार्ड प्रेषित किये जावे|

Date : 17 July 2012
Venue : Indore

काली पट्टी बांधकर सांकेतिक विरोध किया जावे |

Date : 27,28,29 July 2012
Venue : Indore

तीन दिवसीय सांकेतिक भूख हड़ताल की जावे |

Date : 31 July 2012
Venue : Indore

कलेक्टर को पुन: ज्ञापन सोंपा जावे |

Date : 13 Aug 2012
Venue : Indore

जेल भरो आन्दोलन के तहत अधिकाधिक संख्या में गिरफ्तारिया दी जावे|

Date : 30-05-2012
Venue : Indore

30 मई से प्रान्त के निर्देश पर उग्र धरना प्रदर्शन व् दिए गए नेतृत्व के अनुसार आन्दोलन करेंगे|

Date : 25-05-2012
Venue : Collector Office, Indore

25 मई को दोपहर १:०० बजे जिला कलेक्टर कार्यालय पर पदोन्नतियो व सीधी भर्ती में आरक्षण समाप्त करने के षड्यंत्र के खिलाफ पूरे प्रदेश के साथ इंदौर जिले में भी प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री महोदय को ज्ञापन दिया जायेगा|

Date : 29-04-2012
Venue : Ravindra Bhawan, Bhopal


"चलो भोपाल चलो"
अजाक्स का प्रांतीय सम्मलेन आरक्षण बचाओ जनचेतना यात्रा का समापन

मध्यप्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ
अजाक्स
पंजीयन क्रमांक : २५८२८/९३
उद्देश्य
१. संस्था का नाम : मध्यप्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ, इंदौर शाखा
२. संस्था का कार्यालय : एफ - 2, पत्रकार कालोनी चौराहा,स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया के सामने, इंदौर
३. कार्यक्षेत्र : सम्पूर्ण इंदौर जिला होगा |
४. संस्था के उद्देश्य : संस्था के निम्नलिखित उद्देश्य होंगे
1. अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति( जिन्हे इसके बाद आरक्षित वर्ग कहा गया है)के अधिकारीयों एवं कर्मचारियों के संवा संबंधी- मामलों (यथा भर्ती, शिक्षावृत्ति, डात्रवृत्ति, स्टेशनरी, पुस्तकालय, कम्प्यूटर, छात्रावास प्रवेश आर्थिक दावे इत्यादि के संबंध में राज्य) केन्द्र सरकार के संस्थानों पर सम्पर्क स्थापित कर समस्याओं के निदान हेतु आवश्यक कार्यवाहियां करना।
2. राज्य शासन, शासन के सार्वजनिक उपक्रमों, अर्द्ध शासकीय संस्थाओं तथा स्थानीय निकायों की, सेंवाओं में आरक्षण के निर्धारित प्रतिशत की पूर्ति की स्थिति पर निगरानी रखे हुए निर्धारित प्रतिशत हेतु संवैधानिक एवं अहिंसक कार्यवाही करना।
3. आरक्षित वर्गो के सेवारत व्यक्तियों के आथ्र्थिक, सामाजिक, सांस्कृतिक उत्थान हेतु प्रयास करना।
4. आरक्षित क्यों के सामान्य समुदाय के लोगों(नौकारी पेशा लोगों के अलावा) के शैक्षाणिक, सामाजिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक उत्थान हेतु आवश्यक प्रयास करना तथा प्रयोजन हेतु सभा, जुलुस, सेमिनार, प्रशिक्षण शिविर का आयोजन करना।
5. आरक्षित वर्गो एवं उनके नौकरी पेशा सदस्यों को शिक्षित एवं जागृत करना।
6. आरक्षित वर्गो के बीच एकता, भाईचारा एवं परस्पर सहयोग की भावना पैदा करते हुए उसे सुदृढ़ करना।
7. आरक्षित वर्गो के कल्याण हेतु बनाए गए विभिन्न कानुनों का क्रियान्वयन सुनिच्क्षित कराना एवं ऐसे कानून बनाये जाने के लिए जनमत जागृत करना जो कि आरक्षित वर्गो के सर्वगीय विकास, कल्याण हेतु आवश्यक प्रतीत हों।
8. भारतीय संविधान में आरक्षित वर्गो के लिए प्रावधानित आरक्षण की सुविधा सम्बंधी प्रावधान को स्थाई प्रावधान बनाने के लिए प्रजातांत्रिक एवं विधि सम्मत तरीकों से प्रत्यन करना।
9. संस्था की सम्भाग, जिला तहसील विकास खण्ड स्तर पर शाखायें गठित करना।
10. उपरोक्त समस्त उद्देश्यों को प्राप्ति हेतु चन्दा एकत्रित करना, शासन से अनुदान, ऋण, सहायता प्राप्त करना एवं अन्य आवश्यक अनुष्रगिक कार्यवाहियां करना।
जिस समाज में हमारा जन्म हुआ उस समाज का उदार करना हमारा मुख्य कर्तव्य है |

सामाजिक एकता के बिना राजनीतीक एकता प्राप्त करना कठिन है |

तुम ऐसा प्रयत्न करो जिससे तुम्हारे बच्चे तुमसे अछा जीवन व्यतीत कर
सके |

अपने आत्म सम्मान को खोकर जीना बड़ा ही अपमान जनक है |

आजादी कोई आकर भेट नहीं करता
उसके लिए लड़ना पड़ता है |
Home Contact us Email Designed and Powered by